Transformation Of Surplus Value Into Ground Rent And The Question Of MSP: Here Too Our Self-Proclaimed “Marxist Thinker” Looks So Miserable! [3]

What The New Apologists Of Corporates Are And How They Fight Against Revolutionaries [Third Instalment] Proletarian Reorganizing Committee, CPI (ML) Originally published in 'The Truth' (Year 2, Issue 1, May 2021), this article is the third instalment of our reply to a criticism presented in ‘Ahwan’ magazine. The first and second instalments of this reply... Continue Reading →

कॉर्पोरेट को लाल सलाम कहने की बेताबी में शोर मचाती ‘महान मार्क्सवादी चिंतक’ और ‘पूंजी के अध्येता’ की ‘मार्क्‍सवादी मंडली’ का घोर राजनैतिक पतन [2]

प्रोलेटेरियन रिऑर्गनाइज़िंग कमिटी, सी.पी.आई. (एम.एल.) यह लेख ‘आह्वान’ पत्रिका में छपी आलोचना की प्रति आलोचना की दूसरी किश्त है। यथार्थ, अंक 11 में छपी पहली किश्त पढ़ने के लिए इस लिंक पर जाएं – “कार्पोरेट के नए हिमायती क्‍या हैं और वे क्रांतिकारियों से किस तरह लड़ते हैं [1]” आह्वान द्वारा जारी इस आलोचना पर 'द... Continue Reading →

Sanyukt Kisan Morcha calls for Bharat Band on 26 March 2021 [Leaflets]

Leaflet issued by IFTU (Sarwahara)'s Central Committee (Hindi) Leaflet issued by IFTU (Sarwahara)'s Central Committee (Bangla) Joint leaflet by Delhi units of 7 revolutionary trade unions and workers orgs. AIFTU (New)IFTU - Indian Federation of Trade UnionsIFTU (Sarwahara)IMK - Inqlabi mazdoor kendraIMS - Inquilabi Mazdoor SangathanMEK - Mazdoor Ekta KendraNew Trade Union Initiative - NTUI... Continue Reading →

Activist Meeting on Bhagat Singh martyrdom day (Pashchim Bardhaman, West Bengal)

PDYF unit in Raniganj coalfields organized a general meeting on 23rd March 2021 on the topic 'Bhagat Singh's 90th martyrdom day and relevance of his ideas today' and also discussed the preparations of the upcoming 26th March Bharat Bandh. ____________ भगत सिंह शहादत दिवस पर युवा कार्यकर्ताओं की बैठक पश्चिम बर्धमान, प. बंगाल / 23... Continue Reading →

कार्पोरेट के नए हिमायती क्‍या हैं और वे क्रांतिकारियों से किस तरह लड़ते हैं [1]

पी.आर.सी., सी.पी.आई. (एम.एल.) यह लेख 'आह्वान' पत्रिका में छपी आलोचना की प्रति आलोचना है, जो मूलतः 'यथार्थ' पत्रिका, अंक 11 (मार्च 2021) में प्रकाशित हुई है। आलोचना को पाठक इस लिंक पर जा कर पढ़ सकते हैं। इस लेख की दूसरी किश्त को हिंदी व अंग्रेज़ी में पढ़ने के लिए क्रमशः यहां और यहां क्लिक करें। आह्वान द्वारा जारी इस आलोचना पर 'द ट्रुथ' के अंक... Continue Reading →

Create a website or blog at WordPress.com

Up ↑