निर्माण मजदूरों का मांग-पत्रक सम्मलेन (27 जून, ’20)

असंगठित भवन व निर्माण मजदूर यूनियन / सम्बद्ध – आई.एफ.टी.यू. (सर्वहारा)

27 जून ’20 को सुबह 7 बजे से पटना बाईपास स्थित रामकृष्णा नगर में न्यूनतम मजदूरी मिलने, ओवरटाइम के लिए दोगुनी रेट लागू कराने, आदि मांगों को ले कर ‘निर्माण मजदूर मांग-पत्रक सम्मलेन’ आयोजित किया गया।इस सम्मलेन में पटना के कई मजदूर चौकों, मुख्यतः मलाही पकड़ी, मुन्ना चौंक, राजेन्द्र नगर, नाला रोड, सिपारा, भट्टाचार्य मोड़, आदि से लगभग 300 मजदूर शामिल हुए। सभा का संचालन मजदूरों के बीच से ही मनोज कुमार और अनिल कुमार द्वारा किया गया।
इस सम्मलेन में आई.एफ.टी.यू. (सर्वहारा) द्वारा जारी न्यूनतम मजदूरी रेट चार्ट को लागू कराने, 8 घंटे से ज्यादा काम के लिए ओवरटाइम रेट यानी दोगुनी दर से मजदूरी मिलने, सरकार द्वारा लेबर कार्ड बनाने की प्रक्रिया तेज करने व व्याप्त धांधली पर रोक लगाने, सभी मजदूरों की बकाया मजदूरी का भुगतान किए जाने, तथा अन्य मांगों समेत एक 10 सूत्री मांग-पत्र तैयार किया गया।सभी मजदूरों ने इस मांग-पत्र पर हस्ताक्षर करते हुए अपना समर्थन व्यक्त किया। उक्त मांगों की पूर्ति नहीं होने की स्थिति में आगे हड़ताल करने की भी बात की गई जिसका सभी मजदूरों ने पूर्ण समर्थन किया।यूनियन की तरफ से मंटू, आशु, सावन एवं सौजन्य द्वारा सभा को संबोधित किया गया जिसमे मजदूरों को राजनीतिक रूप से चेतनशील हो कर एकजुट होने और मजदूर वर्ग की निर्णायक लड़ाई से जुड़ने का आह्वान किया गया। उमेश मंडल, बिरजू, मिथिलेश कुमार, रवि शंकर, अशोक कुमार, अनिल कुमार, नंदकिशोर, मनोज कुमार एवं विभिन्न चौकों से आये अन्य निर्माण मजदूरों ने भी अपनी समस्याओं पर एवं इस मुहीम के समर्थन में एकताबद्ध होने की बात कही।
मजदूरों के बीच से उपरोक्त मांगों की पूर्ति के लिए कार्यरत ‘असंगठित भवन व निर्माण मजदूर यूनियन’ की एक कमिटी का निर्माण किया गया जिसे सभा में उपस्थित सभी मजदूरों ने तालियों की गड़गड़ाहट के साथ पारित किया।
सभा में मजदूरों के मासिक अखबार ‘सर्वहारा’ के नवीन अंक का विमोचन भी किया गया और क्रांतिकारी गीत गाए गए। मजदूरों को एकताबद्ध होने और शोषण के खिलाफ लड़ाई तेज करने के आह्वान के साथ, लगभग दो घंटे से ज्यादा चली, इस सभा का समापन जोशीले नारों से हुआ।

__________________

Open Conference of Construction Workers’ Charter of Demands organized in Patna by ‘Asangathit Bhawan va Nirmaan Majdoor Union’ (affiliated with IFTU Sarwahara)

A 10-point Charter passed by almost 300 working class participants, which includes increase in wages, double overtime wages, swift and simpler registration process for labour welfare board, better work and living conditions among others demands.
The new issue (#29) of working-class newspaper ‘Sarwahara’ was also released in the Conference, which was concluded with the collective resolve of unity and continuous struggle, for the implementation of all demands and against exploitation and inequality.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

Create a website or blog at WordPress.com

Up ↑